Zindagi Kafi Choti Hai

उम्र में गिनने के लिए, यह चीज़ काफ़ी बड़ी है
पहले एक तो दिन जियो क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

किसी से दुश्मनी मोल लेने के लिए, हममें क्या कमी है
पहले दोस्त तो बनाओ क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

दिल को टूटा हुआ देखने के लिए, आँखों को बड़ी जल्दी है
पहले ग़लती तो करो क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

अपने ख़्वाबों को उड़ाने के लिए, मंज़िल राह देख रही है
पहले सपने तो देखो क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

किसी का समीक्षक बनने के लिए, ऊँगली हमेशा उठती है
पहले ख़ुद की तरफ़ तो देखो क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

समय तो हैं बहुत पर उसकी क़ीमत नहीं है
वक़्त की इज़्ज़त करो क्योंकि ज़िंदगी काफ़ी छोटी है

Sahaj Nalgirkar

2 thoughts on “Zindagi Kafi Choti Hai

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s